1:22 AM | Thursday, February 9, 2023
krutidev mangal
Text Converter

रीसेंट आर्टिकल्स

JNU कैंपस में जाति सूचक नारों से बवाल, “दीवारों पर लिखा ब्राह्मणों वापस जाओ, हम आ रहे हैं”

- Advertisement -

JNU campus: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) परिसर की कई दीवारों को गुरुवार को ब्राह्मण विरोधी नारों के साथ विरूपित कर दिया गया। छात्रों ने दावा किया कि स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज- II भवन की दीवारों को ब्राह्मण और बनिया समुदायों के खिलाफ नारों के साथ सूचक लिखा गया। घटना के कुछ घंटे बाद प्रशासन ने बयान जारी कर कहा कि ऐसी घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा क्योंकि जेएनयू सबका है।

यह भी पढ़ें: Ludhiana court blast: NIA ने मलेशिया से आते ही भगोड़े आतंकी हरप्रीत सिंह को किया गिरफ्तार

कुलपति संतश्री डी पंडित का बयान – JNU campus

- Advertisement -

मामले का संज्ञान लेते हुए कुलपति संतश्री डी पंडित ने डीन और स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज एंड ग्रीवेंस कमेटी से जल्द से जल्द जांच कर रिपोर्ट देने को कहा है। दीवार पर कुछ नारे हैं, “ब्राह्मण कैंपस छोड़ो”, “वहां खून होगा”, “ब्राह्मण भारत छोड़ो” और “ब्राह्मण-बनिया, हम तुम्हारे लिए आ रहे हैं! हम बदला लेंगे।”

बयान में कहा गया है, “कुलपति, प्रोफेसर शांतिश्री डी पंडित ने SIS जेएनयू में कुछ अज्ञात तत्वों द्वारा दीवारों और फैकल्टी के कमरों को विकृत करने की घटना को गंभीरता से लिया है। प्रशासन परिसर में इन बहिष्कारवादी प्रवृत्तियों की निंदा करता है।”

- Advertisement -

उन्होंने कहा “डीन, स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज एंड शिकायत कमेटी को जल्द से जल्द पूछताछ करने और वीसी को एक रिपोर्ट जमा करने के लिए कहा गया है। जेएनयू समावेश और समानता के लिए खड़ा है। वीसी कैंपस में किसी भी तरह की हिंसा के लिए जीरो टॉलरेंस को दोहराता है।”

- Advertisement -

रिलेटेड आर्टिकल्स

Latest Posts

जरुर पढ़ें

राहुल की भारत जोड़ो यात्रा उज्जैन जिले से आगरमालवा की ओर रवाना

उज्जैन/अगरमालवा, 02 दिसंबर (वार्ता) : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा आज मध्यप्रदेश में दसवें दिन उज्जैन जिले के झालरा...

मोरक्को ने चीन से आने वाले सभी यात्रियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया

Morocco, 01 जनवरी (वार्ता): मोरक्को ने चीन से आने वाले सभी यात्रियों के देश में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। विदेश मंत्रालय ने...

आदिवासी समाज की सहमति के बिना पेड़ों को काटना गलत: हेमन्त सोरेन

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने केंद्र सरकार द्वारा लाए गए उस कानून पर आपत्ति जताई है, जिसमें कहा गया है कि आदिवासियों और...

मध्यप्रदेश: पूर्व मंत्री ने नर्सरी की जमीन पर सड़क बनाने के निर्णय का जताया विरोध

भूमि अधिग्रहण, 01 दिसंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री एवं सतना जिले के नागौद से भाजपा विधायक नागेंद्र सिंह ने नर्सरी की जमीन पर...

सेंसेक्स और निफ्टी ने 2022 में निवेशकाें को किया मालामाल

शेयर बाजार, 1 जनवरी 2023- अगर घरेलू शेयर बाजार के पिछले पूरे साल के लेखा-जोखा पर नजर डालें तो कोरोना महामारी के साथ ही...

संपर्क में रहे

सभी नवीनतम समाचारों, ऑफ़र और विशेष घोषणाओं से अपडेट रहने के लिए।

सबसे लोकप्रिय